सही पोषण से ही स्वस्थ समाज का निर्माण संभव -डा. प्रदीप शर्मा
Breaking News :

HARYANA

सही पोषण से ही स्वस्थ समाज का निर्माण संभव -डा. प्रदीप शर्मा
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Wednesday,26 September , 2018)

Palwal News, 26 September 2018 : आयुष विभाग पलवल के मीडिया प्रभारी डा. कुलदीप प्रसाद ने बताया कि आयुष विभाग द्वारा जिले में राष्टï्रीय पोषण मिशन के अंतर्गत नागरिक अस्पताल पलवल के नर्सिंग सभागार में पोषण शिविर का आयोजन बुधवार को सम्पन्न हुआ। यह कार्यक्रम जिला आयुष अधिकारी डा. जसवीर सिंह अहलावत के मार्गदर्शन व नोडल अधिकारी डा. एस.के. वर्मा की देखरेख में हुआ। पोषण जागरूकता शिविर का शुभारंभ सिविल सर्जन डा. प्रदीप शर्मा ने रिबन काटकर किया।  कार्यक्रम में उप-सिविल सर्जन डा. सुनिता शर्मा, बाल रोग विशेषज्ञ डा. वासुदेव, डा. दिव्या, डा. सुषमा चौधरी मुख्य रूप से मौजूद रहे। सिविल सर्जन डा. प्रदीप शर्मा ने सभी के लिए पोषण के महत्व पर बल दिया और कहा कि सही पोषण से ही स्वस्थ समाज का निर्माण संभव है। गर्भवती माताओं को पोषण का ध्यान अच्छे से रखना चाहिए क्योंकि उसी पोषण से गर्भ का समुचित विकास संभव है। सही पोषण से हम एनिमिया से बच सकते हैं। जिला आयुष अधिकारी डा. जसवीर सिंह अहलावत ने बच्चों व किशोर-किशोरियों के लिए पोषण का महत्व बताया और सभी जन मानस से अपील की कि वे पोषण के प्रति जागरूक रहें व सबको पोषण का महत्व बताएं। डा. एस. के. वर्मा ने मौसमी फल, सब्जियों व मोटे अनाजों के पोषक गुणों पर चर्चा की। डा. वासुदेव ने बच्चों के पोषण व ऊपरी आहार के तरीके बताए। इस अवसर पर चिकित्सा शिविर में लगभग 218 मरीजों को दवाइयां वितरित की गईं। शिविर में डा. सतीश शर्मा, डा. प्रवेश अग्रवाल, डा. उर्वशी, डा. पुरेन्द्र चौहान, डा. रूचि दूबे, डा. हेमलता ने चिकित्सा कार्य कर शिविर को सफल बनाने में अपना अहम योगदान दिया। दवाइयां वितरण में उमर मोहम्मद, आसिफ अली, श्रीमती सुशीला, लाल चन्द, राहुल मटरू व बृजलाल ने अपना पूर्ण योगदान दिया। एनजीएफ कॉलेज के रेडियो एफएम पर डा. हेमलता ने किशोरियों के पोषण पर कार्यक्रम प्रसारित किया। इसी श्रृंखला का अगला कार्यक्रम डा. प्रवीन गोयल के नेतृत्व में 27 सितंबर 2018 को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हथीन में आयोजित किया जाएगा। जन मानस को उक्त कार्यक्रमों में भाग लेने की अपील की गई है।

सही पोषण से ही स्वस्थ समाज का निर्माण संभव -डा. प्रदीप शर्मा