राजस्थान में एंबुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल, चिकित्सा सेवाएं प्रभावित
Breaking News :

UTTAR PRADESH

राजस्थान में एंबुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल, चिकित्सा सेवाएं प्रभावित
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Wednesday,21 March , 2018)

Jaipur News, 21 March 2018 : वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर राजस्थान के एंबुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल के तीसरे दिन करीब 1500 एंबुलेंस वाहनों के पहिये थम जाने से चिकित्सा सेवाएं प्रभावित हुई हैं। राजधानी जयपुर में एंबुलेंस सेवा के कर्मचारी अपनी 15 सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार से हड़ताल पर हैं। जयपुर के एंबुलेंस कर्मचारियों द्वारा शुरू की गई इस हड़ताल में प्रदेशभर के एंबुलेंस कर्मचा​री शामिल हो गये हैं। राजस्थान आपातकालीन एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि सरकार के साथ मंगलवार को हुई वार्ता विफल रही। कर्मचारियों ने सरकार की ओर से तीन प्रतिशत के वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया और सरकार ने कर्मचारियों की अन्य मांगें भी नहीं मानीं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रों और सामुदायिक चिकित्सा केन्द्रों पर 108 एंबुलेंस सेवा के लिये 730 एंबुलेंस, 104 एंबुलेंस सेवाओं के लिये 588 एंबुलेंस और बेस एंबुलेंस सेवाओं के लिये 200 एंबुलेंस कार्यरत हैं। उन्होंने कहा, ''हमें सभी कर्मचारियों का समर्थन प्राप्त है और हमारा विरोध जारी रहेगा।’’ उल्लेखनीय है कि सरकार ने गत 16 मार्च को एक अधिसूचना के जरिये 108 आपातकालीन सेवाओं, 104 जननी एक्सप्रेस और बेस एंबुलेंस सेवाओं को रेस्मा के तहत आवश्यक सेवाएं घोषित कर दिया था। राज्य की लगभग छह हजार एंबुलेंस सेवाओं के कर्मचारी हड़ताल में शामिल हैं। सिंह ने कहा, ‘‘समझौते के अनुसार 10 प्रतिशत वेतन वृद्धि का प्रावधान है और हम इस मामले को लंबे समय से उठा रहे हैं लेकिन इस पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है।’’

 

राजस्थान में एंबुलेंस कर्मचारियों की हड़ताल, चिकित्सा सेवाएं प्रभावित