भारत में एनजीओ के विदेशी चंदे पर रोक से अमेरिकी सांसद चिंतित
Breaking News :

INTERNATIONAL

भारत में एनजीओ के विदेशी चंदे पर रोक से अमेरिकी सांसद चिंतित
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Friday,09 December , 2016)

Washington News, 9 December 2016 : भारत में एनजीओ को विदेशों से मिलने वाले चंदे से संबंधित नीतियों पर अमेरिकी सांसदों ने चिंता जताई है। नीतियों में बदलाव की मांग को लेकर ईसाई चैरिटी संगठन के प्रतिनिधियों ने अमेरिकी कांग्रेस की विदेश मामलों की समिति से मुलाकात की है। इन नीतियों के संबंध में भारत सरकार स्पष्ट रूप से कह चुकी है कि 2011 में लागू की गई नीति के निशाने पर कोई एक एनजीओ नहीं है। इन नीतियों का विरोध करने वाले कम्पैशन इंटरनेशनल (सीआइ) ने कहा था कि भारत सरकार ने विदेशी चंदा नियमन कानून (एफसीआरए) में महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं। यह बदलाव उसकी राह में रोड़ा अटकाने वाला है। अमेरिकी कांग्रेस की विदेशी संबंध समिति के अध्यक्ष ईडी रॉयस ने कहा कि 145000 बच्चों को अनिवार्य मदद से वंचित नहीं किया जा सकता है। अमेरिकी परिवार बेहद गरीबों के खाने और शिक्षा के लिए दान भेज सकते हैं। सीआइ पर भारत में धर्म परिवर्तन में लिप्त रहने का आरोप है। सीआइ ने विदेशी मामलों की समिति के सामने उल्लेख किया कि भारत में लागू किए गए विदेशी चंदा नियमन और कर कानून उनकी राह में रोड़ा बना हुआ है। भारत में गरीब बच्चों के बीच काम करना असंभव हो गया है। रायस ने कहा, 'सीआइ भारत में घोर गरीबी में जी रहे बच्चों की मदद करने वाला अकेला बड़ा संगठन है। हमने नौ महीने मेहनत की और इस मुद्दे पर भारतीय नौकरशाहों के साथ सैकड़ों घंटे तक बातचीत की है। ऐसा लगता है कि नौकरशाह व्यवस्था के विपरीत जाने का प्रयास कर रहे हैं।'
 

भारत में एनजीओ के विदेशी चंदे पर रोक से अमेरिकी सांसद चिंतित