कोविड-19 : सरकार द्वारा जारी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के उपायुक्त ने किए जारी आदेश
Breaking News :

HARYANA

कोविड-19 : सरकार द्वारा जारी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के उपायुक्त ने किए जारी आदेश
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Friday,13 November , 2020)

Palwal News, 13 November 2020 (bharatdarshannews.com) : जिलाधीश नरेश नरवाल ने आपराधिक प्रक्रिया 1973 की धारा 144 व आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 2, 30 व 34 के तहत आदेश पारित कर कोविड-19 के संबंध में सरकार द्वारा जारी सभी प्रकार की एसओपी तथा कंटेनमेंट जोन के बाहर की गतिविधियों को पुन: खोलने के लिए सरकार द्वारा जारी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के आदेश जारी किए हैं। जिलाधीश ने आदेशों में बताया है कि कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव को रोकने के संबंध में जारी एसओपी की अनुपालना के लिए सभी एसडीएम व जिला अधिकारियों को जिम्मेवारी सौंपी जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि धार्मिक स्थानों, पूजा स्थलों, होटल, रेस्टोरेंट, अन्य आतिथ्य इकाइयों, शॉपिंग मॉल आदि में पहले से जारी आदेशों की सख्ती से अनुपालना सुनिश्चित की जाए। सभी एसडीएम, नगर परिषद व नगर पालिका के कार्यकारी अधिकारी व सचिव शहर में स्थित सभी बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य एसओपी की अनुपालना सुनिश्चित करें। सभी कार्यालयों व कार्य स्थलों पर कर्मचारी व अधिकारी अपने मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप इस्टॉल करेंगे व सुरक्षा के सभी उपाय अपनाएंगे तथा अन्य लोगों को भी आरोग्य सेतु एप को इंस्टॉल करने व अपने स्वास्थ्य संबंधी जानकारी अपडेट करने बारे जागरूक करेंगे। उन्होंने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए धारा 144 के तहत पहले से ही आदेश जारी कर सभी व्यक्तियों के लिए मास्क पहनना, सार्वजनिक स्थानों पर थूंकने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है तथा इन आदेशों की अवहेलना करने पर 500 रुपए का जुर्माने का प्रावधान किया गया है। जुर्माना न भरने की स्थिति में आईपीसी की धारा 188 के तहत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जा सकती है। उन्होंने बताया कि स्कूल व कोचिंग संस्थान पुन: खोलने के लिए एसडीएम, डीईओ, ड्यूटी मजिस्ट्रेट व इन्सीडेंट कमांडर व उच्च शिक्षण संस्थान खोलने के लिए एसडीएम, जिला उच्च शिक्षा अधिकारी, प्रिंसिपल, पॉलीटेक्रिक व आईटीआई के प्रिंसिपल, स्वीमिंग पुल पुन: खोलने के लिए एसडीएम, डयूटी मजिस्ट्रेट, जिला खेल अधिकारी व इन्सीडेंट कमांडर, सिनेमाहॉल और मल्टीप्लेक्स खोलने के लिए एसडीएम, डीईटीसी टेक्स, फायर अधिकारी, ड्यूटी मजिस्ट्रेट व इन्सीडेंट कमांडर, मनोरंजन पार्क व अन्य इसी तरह के स्थानों को पुन: खोलने के लिए डीएमसी, एसडीएम, डयूटी मजिस्ट्रेट व इन्सीडेंट कमांडर, बिजनेस टू बिजनेस एक्जिबिसन को पुन: खोलने के लिए डीएमसी, एसडीएम, जीएमडीआईसी, डयूटी मजिस्ट्रेट व इन्सीडेंट कमांडर तथा सोशल एकेडमिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक व राजनैतिक कार्यक्रमों में 100 से अधिक व्यक्ति होने पर पुलिस अधीक्षक, डीएमसी, एसडीएम, डयूटी मजिस्ट्रेट, इन्सीडेंट कमांडर, जिला खेल अधिकारी व सभी खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी आवश्यक कार्यवाही अमल में लाएंगे।
उन्होंने बताया कि आरडब्ल्यूए सामाजिक दूरी की हिदायतों की पालना व जरूरी सेवाओं का प्रबंध सुनिश्चित करेंगी। अगर उनके क्षेत्र में किसी प्रकार की अवहेलना मिलती है तो वे पुलिस कंट्रोल रूम को सूचित करेंगे। उन्होंने बताया कि जिला में स्थापित तीन कंट्रोल रूम व टोल फ्री नंबर पर कोविड-19 से संबंधित सूचना दी जा सकती है, जिनमें उपायुक्त कार्यालय के कंट्रोल रूम 01275-298052 (सुबह 9 से शाम 5 बजे), 01275-248901 (24 घंटे 7), एसपी कार्यालय के नियंत्रण कक्ष 01275-256703, सिविल सर्जन नियंत्रण कक्ष 01275-240022, 108 (टोल-फ्री), टोल फ्री 1950 (24&7) शामिल है।
इन हिदायतों में किसी भी प्रकार की अवहेलना मिलने पर आईपीसी की धारा 188 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के तहत कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

कोविड-19 : सरकार द्वारा जारी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के उपायुक्त ने किए जारी आदेश