स्वर्ण मंदिर में केजरीवाल ने बर्तन धोकर किया पश्चाताप
Breaking News :

PUNJAB

स्वर्ण मंदिर में केजरीवाल ने बर्तन धोकर किया पश्चाताप
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Monday,18 July , 2016)

Amritsir News, 18 July 2016 : आम आदमी पार्टी के ‘युवा घोषणा पत्र’ में पार्टी चुनाव चिह्न ‘झाड़ू’ के साथ स्वर्ण मंदिर की तस्वीर छापने से उठे विवाद के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज भूलबक्श :माफी मांगने: के तौर पर स्वर्ण मंदिर में सेवा दी और बर्तन धोए। पश्चाताप के मकसद से केजरीवाल बीती रात को अमृतसर पहुंचे, उन्होंने स्वर्ण मंदिर में 45 मिनट बिताए और बर्तन धोए। इसके बाद उन्होंने स्वर्ण मंदिर में जाकर मत्था टेका और अरदास की। स्वर्ण मंदिर के बाहर वह संगमरमर की फर्श पर करीब आधा घंटा बैठे रहे और शबद कीर्तन सुना। उन्होंने यहां सवांददाताओं को बताया, ‘‘पार्टी के युवा घोषणा पत्र में अगर हमने जाने अनजाने में भूलवश कोई गलती की है तो मैं यहां भूलबक्श के लिए सेवा देने आया हूं। मैंने यहां ‘शबद कीर्तन’ सुना जिससे मुझे असीम शांति मिली। अब मेरे मन को शांति महसूस हो रही है।’’ आप के प्रवक्ता आशीष खेतान भी केजरीवाल के साथ थे। अमृतसर की पुलिस ने खेतान के खिलाफ धारा 295-ए :धार्मिक भावनाएं आहत करने: के तहत मामला दर्ज किया था। अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए आक्रामक प्रचार कर रही आप अपने युवा घोषणा पत्र को जारी करने के बाद विवादों में घिर गई। युवा घोषणा पत्र के आवरण पृष्ठ पर पार्टी चुनाव चिह्न झाड़ू के साथ स्वर्ण मंदिर की तस्वीर चित्रित थी, जिस पर कई सिख धार्मिक संगठनों और राजनीतिक संगठनों ने नाराजगी जाहिर की और केजरीवाल से इसके लिए माफी मांगने को कहा।
 

स्वर्ण मंदिर में केजरीवाल ने बर्तन धोकर किया पश्चाताप