रेड बस ने दिल्ली में, शहर भर में यात्रा करने के लिए अपना कारपूलिंग/बाइकपूलिंग प्लेटफॉर्म ‘rPool’ किया लॉन्च
Breaking News :

DELHI/NCR

रेड बस ने दिल्ली में, शहर भर में यात्रा करने के लिए अपना कारपूलिंग/बाइकपूलिंग प्लेटफॉर्म ‘rPool’ किया लॉन्च
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Friday,28 February , 2020)

rpool को शहरों में ट्रैफिक जाम और प्रदूषण की समस्या कम करने के उद्देश्य से विकसित किया गया है

New Delhi  News, 28 February 2020 (bharatdarshannews.com)  :  दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन बस टिकटिंग प्लेटफॉर्म, रेड बस ने आज दिल्ली में अपने प्लेटफॉर्म पर एक कारपूलिंग और बाइकपूलिंग सर्विस rpool लॉन्च करने की घोषणा की। यह नई सर्विस राष्ट्रीय राजधानी में ऑफिस जाने वालों को घर और उनके कार्यस्थल के बीच आवागमन के दौरान उनकी निजी कारों और बाइकों में राइड की पेशकश करने और इसका लाभ उठाने का मौका देती है। rpool को सीधे रेड बस मोबाइल ऐप से एक्सेस किया जा सकता है। rpool शहर के अंदर (इंट्रा-सिटी) यात्रा साधनों की बढ़ती मांग के मद्देनजर स्थायी समाधान विकसित करने की जरूरत के तहत उभरा है। rpool में शहर में वाहनों की भीड़ और प्रदूषण में कमी लाने पर भी जोर दिया गया है। पिछले 4-5 वर्षों के दौरान दिल्ली सहित भारत के सभी प्रमुख शहरों में निजी स्वामित्व वाले दो और चार पहिया वाहनों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। जिसके परिणामस्वरूप जाम का गंभीर संकट पैदा हो गया है, साथ ही जीवन की गुणवत्ता, पर्यावरण और अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है। हालांकि मेट्रो और बसों सहित सार्वजनिक अवसंरचना में निवेश किया जा रहा है। बड़े शहरों में लोगों की दैनिक आवागमन की बढ़ती मांग को ध्यान में रखते हुए त्वरित, सरल और टिकाऊ समाधान की जरूरत है। इस स्थिति से निपटने के लिए एक स्थायी विकल्प के रूप में रेड बस ‘शेयर्ड मोबिलिटी’ के कांसेप्ट में यकीन रखता है। और वाहन पूलिंग सबसे अच्छे समाधानों में से है। टॉमटॉम ट्रैफिक इंडेक्स के अनुसार, साल 2019 में दिल्लीवासियों को भीड़-भाड़ के समय वाले ट्रैफिक में फंसकर लगभग एक सप्ताह से अधिक समय गंवाना पड़ा जबकि लास वेगास में यही समय तीन दिन से थोड़ा अधिक रहा। जबकि दिल्ली की तुलना में इस अमेरिकी शहर के निवासी लगभग छह गुना अधिक दूरी तय करते हैं। 2018 में दिल्ली की सड़कों पर 11.2 मिलियन वाहन थे, जो पिछले पांच वर्षों के दौरान औसतन 7.6% की दर से बढ़े हैं। और बीसीजी की एक रिपोर्ट के अनुसार, ट्रैफिक कंजेशन की वजह से शहर के सकल घरेलू उत्पाद में लगभग 12% या लगभग 9.6 बिलियन का नुकसान होता है।                 rpool के बारे में : रेड बस ऐप में इंटीग्रेटेड rpool नौकरीपेशा लोगों के लिए एक आधुनिक कारपूल और बाइकपूल सॉल्यूशन है, जो उन्हें अपने घरों और कार्यालयों के बीच राइड की पेशकश और उसका लाभ उठाने में सक्षम बनाता है। यह सबसे तेज और सबसे सुविधाजनक तरीके से राइड देने वालों और राइड लेने वालों को जोड़ने के लिए उन्नत तकनीक का उपयोग करता है। मैचिंग एल्गोरिथ्म यह सुनिश्चित करता है कि राइड देने वाले और राइड लेने को अपने रोजाना के रूट में कोई बदलाव न करना पड़े या बहुत लंबी दूरी न तय करनी पड़े।rpool की विशेषताएं :  कई जाँचों के माध्यम से सत्यापित प्रोफाइल्स: राइड देने वालों और राइड लेने वालों की एक विश्वसनीय कम्युनिटी तैयार करने के लिए rpool रोजाना काम करने वाले पेशेवरों तक ही सीमित है। उपयोगकर्ताओं को उनके मोबाइल नंबर और उनके संस्थान के कॉर्पोरेट ईमेल आईडी/ सरकार द्वारा अनुमोदित आईडी के माध्यम से वेरिफाई किया जाता है। सेफ, सुरक्षित और प्राइवेट: रेड बस ने फ़ोन नंबर मास्किंग की शुरुआत की है जो उपयोगकर्ताओं को एक दूसरे से अपने फोन नंबर को जाहिर किए बिना रेड बस ऐप के माध्यम से एक दूसरे से जुड़ने में सक्षम बनाता है। और इस प्रकार गोपनीयता बनी रहती है। इसके अलावा, सुरक्षा के मद्देनजर महिला यात्री सिर्फ महिलाओं के साथ राइड का विकल्प चुन सकती हैं। आकर्षक इंसेंटिव: राइड देने वालों को रिवॉर्ड पॉइंट्स के रूप में इंसेंटिव मिलता है जिसे फ्यूल स्टेशनों और अमेज़न पे पर भुनाया जा सकता है। राइड लेने वाले समान दूरी के लिए ऑटो/कैब की तुलना में बहुत कम भुगतान करना पड़ता है। यूजर प्रोफाइल्स और फीडबैक के तरीके: उपयोगकर्ता की समीक्षाओं के आधार पर यूजर प्रोफाइल तैयार किया जाता है। रेटिंग के आधार पर प्रतिभागी उन लोगों को चुन सकते हैं जिनके साथ वे यात्रा करना चाहते हैं। सभी राइडर्स के लिए इंश्योरेंस: दुर्घटना होने की स्थिति में rpool अपने बीमा भागीदार द्वारा प्रदान की गई कंप्लीमेंट्री इंश्योरेंस के माध्यम से अपने राइड्स को भी कवर करती है।  इस अवसर पर बोलते हुए रेड बस के सीईओ, प्रकाश संगम ने कहा, “देश में सड़क परिवहन के सबसे बड़े फैसिलिटेटरों में शामिल होने के नाते रेड बस उन्नत तकनीक से युक्त, परखे हुए और टिकाऊ ट्रेवेल सॉल्यूशंस उपलब्ध करके शहरी आवागमन को सुगम बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। कारपूलिंग/बाइकपूलिंग दिल्ली-एनसीआर में बढ़ती ट्रैफिक समस्याओं से निपटने के लिए एक स्थायी और पर्यावरण के अनुकूल समाधान है। जो न सिर्फ सड़कों पर जाम कम करने में मददगार होगा बल्कि यात्रियों को यात्रा का एक व्यावहारिक अनुभव देता है जिससे ईंधन और पैसे दोनों की बचत होती है।  हमें दिल्ली में rpool सर्विस के शुभारंभ की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। यह एक ऐसा कांसेप्ट है जो पहले ही ऑड/इवेन के दिनों के दौरान कारपूलिंग को अपनाने के साथ दिल्ली में लोकप्रिय हो चुका है। हम वेहिकल पूलिंग को और अधिक व्यापक बनाना और इसका प्रसार करना चाहते हैं। हमारा मानना है कि दिल्ली के लोगों की सोच में बदलाव लाने के लिए rpool एक लंबा सफर तय करेगा और बड़े पैमाने पर पर्यावरण की रक्षा के लिए योगदान देगा।” बड़े पैमाने पर सही कार्यान्वयन और इस कांसेप्ट को अपनाने से बड़े शहरों में पीक आवर्स के दौरान कारपूलिंग से वाहनों का ट्रैफिक काफी कम हो सकता है। शोध बताते हैं कि अगर 4 लोग 10 किलोमीटर के लिए एक कार को शेयर करते हैं तो लगभग 4 से 5 लीटर ईंधन बचाया जा सकता है। और इस तरह CO2 उत्सर्जन को 9 से 11 किलोग्राम तक कम किया जा सकता है। उत्तर भारत, खासकर एनसीआर में रेड बस बढ़ते यूजर्स के साथ, कंपनी दिल्ली में शहरी आवागमन को सकारात्मक रूप से प्रभावित करते हुए rpool को तेजी से बड़े पैमाने पर लागू करने की ओर अग्रसर है। रेड बस ने पिछले एक साल में उत्तर और पश्चिम क्षेत्रों में मजबूत ग्रोथ दर्ज की है। और इसका लगभग 37%  राजस्व तीसरे क्वार्टर से आया है। इसका श्रेय काफी हद तक कंपनी के ब्रांड एंबेसडर, एम एस धोनी के प्रचार अभियानों को जाता है। इसी वजह से रेड बस आज एक अखिल भारतीय ब्रांड है। उत्तर भारत के जिन टियर 1 और टियर-2  शहरों ने इसके ग्रोथ में में योगदान दिया है, उनमें दिल्ली, लखनऊ, कानपुर, आगरा और देहरादून शामिल हैं।  उत्तर में बस यात्रा के लिए सबसे व्यस्त और उच्च मांग वाला रूट लखनऊ और दिल्ली के बीच है। रेड बस ने भारत भर में 2600+ निजी बस ऑपरेटरों और 23 आरटीसी के साथ हाथ मिलाया है, जो प्रतिदिन लगभग 2 लाख से ज्यादा लोगों को सर्विस देते हैं। रेड बस ने दिल्ली में ‘ऑन-टाइम गारंटी’ (ओटीजी) भी लॉन्च किया है। यह एक ऐसी सुविधा है जो बसों के निर्धारित समय से नहीं छूटने की स्थिति में यात्रियों को मुआवजा देती हैं।

 

 

रेड बस ने दिल्ली में, शहर भर में यात्रा करने के लिए अपना कारपूलिंग/बाइकपूलिंग प्लेटफॉर्म ‘rPool’ किया लॉन्च