फूड कार्निवल में उठी हरियाणवी व राजस्थानी लजीज व्यंजनों की महक
Breaking News :

HARYANA

फूड कार्निवल में उठी हरियाणवी व राजस्थानी लजीज व्यंजनों की महक
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Thursday,06 February , 2020)

Bhiwani  News, 06 February 2020 (Kiran Kathuria) : आदर्श महिला महाविद्यालय में आयोजित फूड कार्निवल में उठी हरियाणवी व राजस्थानी लजीज व्यंजनों की महक ने हवा को गुलजार कर दिया। महाविद्यालय के खेल मैदान में सज्जी व्यंजनों की 25 स्टॉल पर छात्राओं ने अपनी पाक कला का हुनर दिखाया। कार्निवल की खास बात यह रही कि सिर्फ गृह विज्ञान ही नहीं अपितू सभी संकायों की छात्राओं ने बढ़-चढ़ कर अपना हुनर दिखाया। हरियाणवी व राजस्थानी व्यंजनों में शायद ही कोई ऐसा व्यंजन हो जिसमें छात्राओं ने अपनी पाक कला का हुनर न दिखाया हो। व्यंजनों से उठती महक ने आए हुए अतिथियों एवं उपस्थितजनों को परिणाम से पूर्व ही चखने के लिए लालायित कर दिया। अपनी पाक कला दिखाने के लिए छात्राओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। कार्निवाल की एक ओर खास बात यह रही की छात्राओं ने सभी व्ययंजन पारम्परिक दादी-नानी की रसोईयों में बनने वाले चुने। देसी व्यंजनों के घोल-मेल से बने कुछ व्यंजन तो ऐसे थे कि निर्णायक मंडल की टीम के सदस्यों को भी पहली बार सुनने को मिले। फूड कार्निवल में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे अनुराग कैफे के मुख्य संचालक अनुराग जाखड़ ने कहा इस प्रकार के कार्यक्रम से ही विद्यार्थियों की प्रतिभा निखरती है और उनमें हुनर तैयार होता है। इसी हुनर के बल पर वे भविष्य में बगैर किसी सरकारी या नीजि संस्थान में नौकरियों के बजाए वे खुद नौकरी देने वाले बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि व्यक्ति टैलेंट से आगे बढ़ाता है इसलिए विद्यार्थी वर्ग इस प्रकार के कार्यक्रम से प्रेरणा लेकर आगे बढ़ें। वैश्य महाविद्यालय ट्रस्ट के प्रधान शिवरत्न गुप्ता ने भी अपना संबोधन देते हुए कहा कि उन्हें गर्व है कि उनके पूर्वजों द्वारा लगाए महाविद्यालय रूपी पौधे में पर आज हजारों छात्राऐं फूल की तरह महक कर अपना, अपने परिवार का और समाज का भविष्य गढ़ रही है।  कार्निवल में आए अतिथियों का स्वागत करते हुए महाविद्यालय के महासचिव अशोक बुवानीवाला ने महाविद्यालय के संस्थापक सदस्य स्वर्गीय डॉ. एमएम गुप्ता को अपनी श्रद्धांजली अर्पित करते हुए उन्होंने उनके जीवन से प्रेरणा लेने की बात कही ओर कहा कि पहली बार यह कार्यक्रम छात्राओं के सम्मुख प्रस्तुत किया गया है ताकि वे अपनी प्रतिभा को एक खुले मंच पर साकार कर सकें। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत उनका प्रयास है कि बच्चों को रसोई से जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से मिलकर खाने व मिलकर बैठने की हमारी सांझी संस्कृति को जिंदा करने की कोशिश की गई है ताकि  छात्राऐं आगे चलकर अपने परिवार को जोड़ सकें। महाविद्यालय प्रबंधकारिणी की महासचिव दर्शना गुप्ता, समाजसेवी मीनू बुवानीवाला, उपाध्यक्ष सुनीता गुप्ता व प्राचार्या डॉ. रजनी राघव ने विद्यार्थियों की प्रतिभाओं को सराहते हुए कहा कि इस प्रकार की परिपाटी विद्यार्थियों को रसोई से जोड़ती है और यही विद्यार्थी आगे चलकर रसोई की मैनेजमेंट में कभी कमी नहीं आने देंगे। इस अवसर पर आदर्श शिक्षा समिति के प्रधान अजय गुप्ता, पवन बुवानीवाला, प्रीतम अग्रवाल, डॉ. मदन मानव, भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय से होटल मैनेजमेंट के पदाधिकारी गोल्ड मैडलिस्ट पवन कुमार, शकुंतला बुवानीवाला, प्राची देवी, शशी गुप्ता, नरेश ढिगावावाला, पवन केडिया, डॉ. बुद्धदेव आर्य, जगत नारायण भारद्वाज, दीपक बंसल, अधिवक्ता अशोक गुप्ता, विवेक अग्रवाल, संजीव कौशिक, हरिश हालुवासिया, बलराज, महाविद्यालय की सेवानिवृत प्राचार्य व प्राध्यापिकाऐं, कार्यक्रम संयोजक संगीता मनरो, उपसंयोजक नीरू चावला सहित समस्त महाविद्यालय स्टाफ उपस्थित रहा।

बॉक्स-1
छात्राओं के हुनर ने निर्णायक मंडल को अंतिम निर्णय को अंत तक दुविधा में डाले रखा। लेकिन कड़ी मसक्कत के बाद आखिर निर्णायक मंडल की टीम ने निर्णय की घोषणा करते हुए पहला स्थान छात्रा ज्योति, रूचि, किरण, मिहीका, रश्मी की टीम औरेंज को, दूसरा स्थान छात्रा रिया, आयुषी गोयल, सलौनी, विशु की टीम बैर्गड़ी को, तीसरा स्थान छात्रा सावन, अनुष्का, गुनजीत, समृद्धि की टीम इंडिगों को व सांत्वना पुरस्कार छात्रा प्रियंका, नेहा, विधिनी शुभम, प्रियंका की टीम पर्पल को दिया। वहीं ऑलओवर चैंम्पियन टीम बर्गड़ी को दिया गया व बैस्ट मैन्यू कार्ड के लिए टीम औरेंज को पुरस्कृत किया गया।

बॉक्स-2
कार्निवल में लगी स्टॉलों को विभिन्न रंगों के नाम से 25 टीमों में बांटा गया। जिसमें टीम वायलेट ने आलू-मटर-पनीर, मिक्स वेज, गुड घेवर, पुरी, मेसी रोटी, रायता में अपना हुनर दिखाया। इसी प्रकार टीम सिल्वर ने स्टफ्ड बाटी, खोबा रोटी, गुलाब जामुन की सब्जी, गुलाब जामुन, मसाला चाप, टीम ब्लू ने दाल-भाती चुरमा, संगरी की सब्जी, मेसी रोटी, गजरेला, पापड़, चटनी, अचार, लस्सी, टीम लाईम ने सरसों का साग, बाजरे की रोटी, माल पुआ, गट्टे की सब्जी, चपाती, टीम शायन ने चुन साग की कढ़ी, मटर-दही की सब्जी, गुलगुले-सुहाली, रायता-बाजरे की रोटी, टीम पिंक ने मेथी-पालक साग, गाजर-मेथी सब्जी, सुजी-बेसन पराठा, गोंद के लड्डू, बाजरे की रबड़ी, टीम यैलो ने दाल बाफला, पितौद की सब्जी, मसाला पराठा, कुरमानी, मोहन थाल, टीम लिलाक ने घेवर, दाल पुरी (बेदमी), आलू गेरवी भरवां, मोठ की सब्जी, बिरयानी, मेथी की लॉची, टीम पिच ने आलू-बाजरा-रोटी, चना-साग-कढ़ी, केसर, पकौड़ें, फू्रट रायता, टीम गोल्डन ने मेथी-पापड़ सब्जी, हमा छोलिया, चुरमा-गुजिया, लच्छा पराठा, पकौड़ी रायता, टीम ब्लैक ने हल्दी की सब्जी, मावा कचौरी, मसाला रोटी, पंचमल दाल, टीम परपल ने टिक्कर पराठा, भूजिया की सब्जी, पापड़ की सब्जी, बाजरा मलाई खिरनी, टीम इंडिगो ने बाजरे की खिचड़ी, आलू मटर की सब्जी, अलसी की पिन्नी, दाल की पुरी, टीम ग्रीन ने राज कचौरी, रबड़ी मालपुआ, मेसी रोटी, गट्टे की सब्जी, टीम ग्रे ने दाल-भाटी चुरमा, गट्टा सब्जी, सत्ता रोटी, मालपुआ, टीम मैजेंटा ने दाल-भाती-चुरमा, कैरी खोबा रोटी, मालपुआ रबड़ी, खोबा रोटी चटनी, टीम रेड ने खीर पूडी, बथूआ रायता, मूली भूजी, खत्ते की सब्जी, रबड़ी, टीम लैवेन्डर ने गट्टे की सब्जी, चुरमा, कुरकुरी भींडी, लाल मिर्च की चटनी, बाजरे की खिचड़ी, टीम बरगंडी ने मसाला बेसन रोटी, हरा छोलिया धनिया, बीस मिली खिचड़ी, बाजरा के लड्डू, टीम मैहरून ने बाजरे की रोटी, पकौड़ा कढ़ी, सूजी का हलवा, आलू मेथी, टीम मूवे ने मिक्स वेज, मिक्स दाल, मिस्सी रोटी, मूंग दाल हलवा, टीम वाईट ने बाजरे की रोटी, कढ़ी, बाजरे का चुरमा, खीर, साग, टीम ब्राऊन ने गुलाब जामुन कैरी, अचारी आलू, टिक्कर पराठा, कैरेट रोल, टीम टैन ने गुलाब जामुन की सब्जी, टीक्कर पराठा, मावा कचौरी, भरवा भिंडी, टीम औरेंज ने गट्टे की सब्जी, सांगरी, गुलाब चुरमा, मटर की रोटी तैयार कर अपनी पाक कला प्रदर्शित की। 

फूड कार्निवल में उठी हरियाणवी व राजस्थानी लजीज व्यंजनों की महक