मनुष्य का आचरण कर्म संस्कार द्वारा जाना जाता है : प्रोफेसर एम.पी. सिंह
Breaking News :

FARIDABAD

मनुष्य का आचरण कर्म संस्कार द्वारा जाना जाता है : प्रोफेसर एम.पी. सिंह
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Friday,13 December , 2019)

Faridabad News, 13 December 2019 (bharat darshan news) : प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय माउंट आबू से सूरज भाई और गीता बहन ने फरीदाबाद में 9 दिसंबर 2019 को तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें मूलभूत सिद्धांतों का पालन करने हेतु ज्ञान व योग पर चर्चा की आज सेक्टर 21d के सेंटर में निर्विघ्न जीवन कैसे जिए पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें रोजमर्रा की परेशानियों के समाधान के टिप्स भी दिए गए इस अवसर पर देश के सुप्रसिद्ध शिक्षाविद समाजशास्त्री दार्शनिक प्रोफेसर एमपी सिंह ने कहा की मनुष्य अपने आचरण कर्म संस्कार द्वारा जाना जाता है यदि इनमें कहीं कमी आ जाती है तो दुख और अपमान का कारण बन जाता है और यह आध्यात्मिक ज्ञान की कमी के कारण ही होता है यदि मानव जीवन को सफल बनाना है और संतुलित जीवन जीना है तो ओम शांति द्वारा स्थापित ब्रह्मा कुमारीज सेंटर में जाकर ज्ञान प्राप्त करें और मेडिटेशन को अपनाएं इस अवसर पर सेक्टर 19 के ओम शांति संस्था के संस्थापक हरीश दीदी ने कहा की प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय विश्व भर मैं धर्म को नए मापदंडों पर परिभाषित कर रहा है सेक्टर 40 के ओम शांति संस्थान से ज्योति बहन ने कहा की जीवन की दौड़ धूप में थक चुके मनुष्य आज शांति की तलाश में इधर-उधर भटक रहे हैं एनआईटी फरीदाबाद से उषा दीदी ने कहा कि ब्रह्मा कुमारीज राजयोग मेडिटेशन आध्यात्मिक ज्ञान अपने आपको संतुलित करने में मदद करता है सेक्टर 21d से प्रीती दीदी ने कहा कि जो दूसरों को दुखी करता है वह स्वयं दुखी रहता है और यह सब भौतिक ज्ञान की वजह से होता है माउंट आबू से आए हुए गीता दीदी ने कहा ने कहा की आध्यात्मिक ज्ञान के अभाव में परमात्मा को पहचानने में गलती हो जाती है जिससे व्यक्ति अभिमान में आकर अवगुणों को अपना लेता है और अशांतिपूर्ण जीवन जीने लगता है

 

मनुष्य का आचरण कर्म संस्कार द्वारा जाना जाता है : प्रोफेसर एम.पी. सिंह