डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला “यूथ आइकॉन-2019” के सम्मान से सम्मानित
Breaking News :

CHANDIGARH

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला “यूथ आइकॉन-2019” के सम्मान से सम्मानित
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Friday,13 December , 2019)

यूएसए की सारागढ़ी फाउंडेशन के साथ यूके के आर्मी डेलिगेशन ने किया सम्मानित

Panchkulla News, 13 December 2019 (bharat darshan news) :  प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को “यूथ आइकॉन ऑफ द ईयर 2019” के सम्मान के साथ सम्मानित किया गया हैं। ये सम्मान शुक्रवार को पंचकुला के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में यूएसए की सारागढ़ी फाउंडेशन और यूके सेना मुख्यालय के अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल ने संयुक्त रूप से दिया। सम्मानित होने के बाद डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने दोनों संस्थाओं का आभार प्रकट किया। वहीं इस मौके पर उन्होंने इस सम्मान को प्रदेश के युवाओं को समर्पित करते हुए कहा कि यह सम्मान केवल उनका सम्मान नहीं है बल्कि उनके साथ प्रदेश की तरक्की में काम कर रहे हजारों लाखों युवाओं का है। पत्रकारों से रूबरू होते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत ने सारागढ़ी की लड़ाई में हजारों अफगान लड़ाकों को टक्कर देने वाले 21 योद्धाओं को याद करते हुए कहा कि बॉर्डर पर अपनी पोस्ट बचाने के लिए अंतिम सांस तक वीर योद्धाओं ने लड़ाई लड़ी, जिनपर उन्हें बहुत गर्व है। उन्होंने कहा कि उन 21 योद्धाओं में से दो वीर योद्धा हरियाणा के भी थे। उन्होंने कहा कि वें आने वाली पीढ़ियों तक इस वीरगाथा को पहुंचाने का काम करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे वीर योद्धाओं की वीरगाथा को नई पीढ़ी से रूबरू करवाने वाली सारागढ़ी संस्था के साथ जुड़ने और उनसे सम्मानित होने का आज उन्हें सौभाग्य मिला जिसके लिए वे उनका आभार प्रकट करते है। वही डेलिगेशन द्वारा सारागढ़ी के वीर योद्धाओं की वीर गाथाओं को विभिन्न भाषाओं में देश के प्रत्येक कोने तक पहुंचाने के सुझाव पर उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बहुत अच्छा सुझाव हैं। उन्होंने कहा कि इन 21 वीर योद्धा के साथ-साथ जितने भी विक्टोरिया क्रॉस रहे हैं उनका एक अध्याय हमारे इतिहास के साथ जुड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) को अपनी सभी इतिहास की पुस्तकों में इस अध्याय को शामिल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस सुझाव को वह केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री तक पहुंचाएंगे। वहीं उन्होंने कहा कि सारागढ़ी की लड़ाई में जो दो वीर योद्धा हरियाणा राज्य के थे, उनके लिए उनके गांव में मेमोरियल बनाने का प्रयास भी किया जाएगा ताकि आने वाली पीढ़ियों के लिए इस वीरता की गाथा को जिंदा रखा जा सके। इस अवसर पर ब्रिटिश आर्मी से ब्रिगेडियर सीलिया हार्वे, कर्नल जॉन केन्डाल, वारंट ऑफिसर अशोक चौहान, कैप्टन जगजीत सिंह सोहल, सारागढ़ी फाउंडेशन से गुरिंदरपाल सिंह, ब्रिगेडियर के एस कैहलों सामाजिक कार्यकर्ता कंवलजीत सिंह गिल आदि मौजूद थे। कार्यक्रम के संयोजक सहजवीर सिंह बराड़ को विशेष प्रयासों के लिए गेस्ट ऑफ ऑनर से सम्मानित किया कया।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला “यूथ आइकॉन-2019” के सम्मान से सम्मानित