नौकरियों के नाम पर पारदर्शिता नहीं, नाइंसाफी हुई है : कुमारी सैलजा
Breaking News :

HARYANA

नौकरियों के नाम पर पारदर्शिता नहीं, नाइंसाफी हुई है : कुमारी सैलजा
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Sunday,06 October , 2019)

New Delhi News, 06 Oct 2019 : कांग्रेस पार्टी जो वचन देती है, उसे निभाती है। यह हरियाणा के लोगों को बखूबी पता है।अगले चंद रोज में कांग्रेस का व्यवहारिक घोषणापत्र आने वाला है। उसके लिए समाज के हर वर्ग को उम्मीद है।कांग्रेस के वायदा पत्र में आम हरियाणवी का पूरा ख्याल रखा जाएगा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दिल्ली कैंप ऑफिस में पत्रकारों से बात करते यह जानकारी दी। उन्होंनेकहा कि सबका पेट भरने वाला किसान हरियाणा में भूखा सोए, ऐसा सिर्फ भाजपा की सरकार में हो सकता है और हो रहा है। मुआवजा के नाम पर किसानों के साथ मजाक इंसानियत के मुंह पर तमाचा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस खोखले वादे नहीं करती बल्कि वचन निभाना जानती है। हरियाणा के लोगों को पता है कि कांग्रेस औऱ भाजपा में अंतर है। कांग्रेस सरकार ने पहले भी अपने सारे वादे पूरे किए हैं और आगे भी करेगी। इसलिए लोग इस बार दिवाली पर कांग्रेस की सरकार बनवाने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पांच साल में मनोहर लाल सरकार ने भाजपा घोषणापत्र में एक वादे को पूरा नहीं है। खट्टर सरकार के अहंकारी भाव औऱ समाज को तोड़ने के रवैएसे हरियाणा के लोग बुरी तरह से आहत हैं। प्रदेश के आम लोग खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। भाजपा से जनता की नाराजगी ही कांग्रेस को फिर से सत्ता में लौटाने जा रही है। उन्होंने पार्टी में नाराजगी को लेकर उठी खबर पर कहा कि कांग्रेस वर्कस की नाराजगी तात्कालिक है। कांग्रेस की विचारधारा में यकीन रखने वाले लोग कभी इधर से उधर नहीं जा सकते। एकाध रोज में सच्चे कांग्रेस वर्कर्स का काफिला फिर से उठ खड़ा होगा। आपसी नाराजगी को भुला लोग चुनाव में लग जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नब्बे हलकों के सीटों के लिए कांग्रेस के 1200 आवेदक सामने आए थे। उनमें से सबको टिकट देना संभव नहीं था जाहिर तौर पर 1100 लोगों को टिकट नहीं मिल सका। जिनको नहीं मिला, वो सब भी अब पूरे दमखम से पार्टी प्रत्याशी को चुनाव जिताने में लगे हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मनोहर लाल सरकार से लोग नाराज हैं। लिहाजा कांग्रेस का विकल्प उनको पंसद आ रहा है। मौजूदा सरकार के नौकरियों में पारदर्शिता का दावे का सच लोगों के सामने है। इनके कार्यकाल में हरियाणा स्टाफ सलेक्शन बोर्ड के अध्यक्ष को हेराफेरी करते पकड़ा गया, सस्पेंड हुआ औऱ फिर उन्हें इसी पद पर बहाल कर दिया गया। नौकरियों के नाम पर जमकर ठगी हुई। एमबीए और इंजीनियरिंग किए चंद बच्चों के हाथों ग्रुप डी वर्ग की नौकरी थमा दी गई। उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल में मनोहर लाल सरकार ने एक भी वादा पूरा नहीं किया। प्रदेश सरकार के पांच साल के कामकाज का आंकलन है कि इन्होंने लोगों को धर्म और समुदाय के मुद्दों में उलझाए रखा। इनके विधायक धरने पर बैठे रहे। टिकट देने की बारी आई, तो मंत्री और विधायकों के टिकट काट दिया गया। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि मनोहर लाल सरकार छल-कपट में माहिर है। इन्होंने हरियाणा के लोगों को छल कर सत्ता हासिल की थी।उन्होंने कहा कि चारों ओर लोग परेशान हैं। नई फैक्ट्रियां खुली नहीं,पुराने उद्योग धंधे बंद हो गए। इनकी पोल खुल गई है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि ड्रग्स माफिया हावी है। जिस तरह से ड्रग्स माफिया से निपटना चाहिए। वह मौजूदा सरकार ने नहीं किया। इससे शक पैदा होता है कि सरकार के लोग माफियाओं से मिले हैं। पंजाब की तरह ड्रग्स माफिया की धरपकड़ के लिए खट्टर सरकार ने एसटीएफ जैसा कोई फोर्स नहीं बनाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में आते ही ड्रग्स के कारोबार में शामिल एक-एक लोगों को पकड़कर जेल में डालेगी। हरियाणा के दबंग नस्ल को बचाने कठोर नियम बनाएंगे। कुमारी सैलजा ने कहा कि आज हर तरफ असंतोष है। न नौकरियां हैं, न कानून व्यवस्था है और न ही किसानों की आय दोगुनी करने का दावे पर सरकार खरी उतरी है। बल्कि बीमा कंपनियों की चांदी कट रही है औऱ किसानों के लिए मूलधन की रक्षा कर पाना मुश्किल हो रहा है। हरियाणा में किसानों को फसल का सही दाम नहीं दे पाने की नई समस्या मौजूदा सरकार की देन है।

नौकरियों के नाम पर पारदर्शिता नहीं, नाइंसाफी हुई है : कुमारी सैलजा