राज्यसभा में बोले PM- मॉब लिंचिंग का दुख है, पूरे झारखंड को दोष देना गलत
Breaking News :

NATIONAL

राज्यसभा में बोले PM- मॉब लिंचिंग का दुख है, पूरे झारखंड को दोष देना गलत
(Kiran Kathuria) www.bharatdarshannews.com Wednesday,26 June , 2019)

New Delhi News, 26 June 2019 :  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर संसद के दोनों सदनों में चर्चा जारी है। लोकसभा में मंगलवार को पीएम मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान जवाब दिया तो वहीं, बुधवार को राज्यसभा में पीएम मोदी ने अभिभाषण पर चर्चा का जवाब दिया। पीएम मोदी ने कहा कि प्रचंड जनादेश के बाद पहली बार सदन में बोलने का मौका मिला है। उन्होंने ईवीएम के मुद्दे पर विपक्ष पर तीखा हमला बोला। देश ने एक मजबूत जनादेश दिया पीएम मोदी ने कहा कि दशकों बाद देश ने एक मजबूत जनादेश दिया है, एक सरकार को दोबारा फिर से लाए हैं और पहले से अधिक शक्ति देकर लाए हैं। भारत जैसे लोकतंत्र में हर भारतीय के लिए गौरव का विषय है कि हमारा मतदाता कितना जागरुक है। देश के लिए निर्णय करता है, यह चुनाव में साफ साफ नजर आया। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने राज्यसभा में विभिन्न मुद्दों पर विपक्ष को घेरा। 
 

कांग्रेस हारी तो देश हार गया क्या? 
 
पीएम मोदी पीएम मोदी ने कहा, 'इतने बड़े जनादेश को कुछ लोग ये कह दें कि आप तो चुनाव जीत गए लेकिन देश चुनाव हार गया। मैं समझता हूं कि इससे बड़ा भारत के लोकतंत्र और जनता जनार्दन का कोई अपमान नहीं हो सकता।' उन्होंने कहा,'मैं पूछना चाहूंगा कि क्या वायनाड में हिंदुस्तान हार गया क्या? क्या रायबरेली में हिन्दुस्तान हार गया? क्या बहरामपुर और तिरुवनंतपुरम में हिंदुस्तान हार गया क्या? और क्या अमेठी में हिंदुस्तान हार गया? मतलब कांग्रेस हारी तो देश हार गया क्या? अहंकार की भी एक सीमा होती है।  

किसान परिवारों को अपमानित किया गया 

पीएम मोदी विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा,'ये तक कह दिया कि देश का किसान बिकाऊ है। दो-दो हजार रुपये की योजना के कारण किसानों के वोट खरीद लिए गए। मैं मानता हूं कि मेरे देश का किसान बिकाऊ नहीं हो सकता। ऐसी बात कहकर देश के करीब 15 करोड़ किसान परिवारों को अपमानित किया गया है।' पीएम मोदी ने कहा, 'मैं हैरान हूं, मीडिया को भी गाली दी गई कि मीडिया के कारण चुनाव जीते जाते हैं। मीडिया बिकाऊ है क्या? जो खरीद कर चुनाव जीत लिए जाएं। तमिलनाडु जैसे राज्यों में भी यही लागू होगा क्या?'  


'एक दल 17 राज्यों में एक भी सीट नहीं जीत पाया तो क्या देश हार गया'

 पीएम मोदी ने इस दौरान कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि 55-60 वर्ष तक देश को चलाने वाला एक दल 17 राज्यों में एक भी सीट नहीं जीत पाया तो क्या इसका मतलब ये हुआ कि देश हार गया? पीएम ने कहा कि जब स्वयं पर भरोसा नहीं होता है, सामर्थ्य का अभाव होता है, तब फिर बहाने ढूंढे जाते हैं। विपक्ष के ईवीएम के आरोपों पर भी उन्होंने पलटवार किया। पीएम मोदी ने कहा,'आत्मचिंतन करने और अपनी गलतियों को स्वीकारने की जिनकी तैयारी नहीं होती वो फिर EVM पर ठीकरा फोड़ते हैं। जिससे अपने साथियों को बताया जाये कि देखो देखो हम तो EVM के कारण हारे।' 

हमनें कभी ईवीएम को दोष नहीं दिया 

पीएम लोकसभा चुनाव परिणामों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा,'कभी सदन में हम भी 2 रह गए थे। हमको 2 या 3 बस, कहकर बार-बार हमारा मजाक उड़ाया जाता था। लेकिन हमें कार्यकर्ताओं पर भरोसा था, देश की जनता पर भरोसा था, हममें परिश्रम करने की पराकाष्ठा थी और इससे हमने फिर से पार्टी को खड़ा किया।हमने ईवीएम पर दोष नहीं दिया था।'  

मॉब लिंचिंग की झारखंड की घटना पर बोले पीएम 

मॉब लिंचिंग की झारखंड की घटना का पीएम मोदी ने जिक्र करते हुए कहा कि युवक की मौत का दु:ख सभी को है। उन्होंने कहा कि किसी एक घटना के कारण पूरे राज्य को बदनाम करने का हक हममें से किसी को नहीं है। उन्होंने कहा कि जो भी दोषी हैं उनसे कानूनी प्रक्रिया के तहत निपटा जाना चाहिए, लेकिन इसको लेकर राजनीति तो की जा सकती है लेकिन इससे न्याय नहीं मिल पाएगा। उन्होंने कहा कि हिंसा की घटनाओं में मेरा और तेरा नहीं होना चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि भीड़ की हिंसा पर झारखंड सरकार को दोष देना गलत है। हिंसा की घटनाओं पर एक ही मापदंड होना चाहिए।  

राज्यसभा में बोले PM- मॉब लिंचिंग का दुख है, पूरे झारखंड को दोष देना गलत